लड़ाकू विमान राफेल की बढ़ेगी ताकत! वायुसेना ने फ्रांस को दिया Hammer Missiles का ऑर्डर


नई दिल्ली । अब वो वक्त दूर नहीं जब भारत के पास भी राफेल होगा। भारत- चीन के बीच जारी तनाव के बीच 29 जुलाई को फ्रांस भारतीय वायुसेना को राफेल विमान की पहली खेफ भेजेगा। बता दें कि लड़ाकू विमान राफेल की ताकत बढ़ाने के लिए भारतीय वायुसेना कुछ नया सोच रही थी। जिस पर अब फैसला ले लिया गया है। वायुसेना राफेल में फ्रांसीसी मिसाइल हैमर (HAMMER Missile) से लैस करने की तैयारी में है।


मिसाइलों के लिए दिया गया ऑर्डर
सूत्रों की मानें तो लड़ाकू विमान राफेल को अधिक शक्तिशाली बनाने के लिए मोदी सरकार ने हैमर मिसाइलों के लिए ऑर्डर दिया है। इन मिसाइलों की अपनी एक अलग पहचान है। ये मिसाइल 60-70 किलोमीटर की सीमा पर निशाना लगाकर दुश्मन को धूल चटा सकती हैं। वहीं अभी तक वायुसेना के एक प्रवक्ता ने इस संबंध में कुछ भी कहने से इनकार किया है।


हैमर मिसाइल का पूरा नाम हाइली एजाइल मॉड्यूलर म्यूनिशन एक्सटेंडेड रेंज हैं। इस मिसाइल को शुरुआत में फ्रांस ने अपनी वायु और नौ सेना के लिए डिजाइन किया था। जो अब भारत को मिलने वाली है। सूत्रों की मानें तो भारत इन मिसाइलों का यूज पहाड़ी क्षेत्रों में करेगा, जहां थल सेना को जाने में दिकक्त होगी। इतना ही नहीं इसका यूज किसी भी इलाके में किया जा सकता है।


आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि राफेल लड़ाकू विमानों को पूर्वी लद्दाख सेक्टर में तैनात किए जाने की संभावना है जिससे कि भारतीय वायुसेना चीन के साथ विवाद के मद्देनजर वास्तविक नियंत्रण रेखा पर अपनी अभियानगत क्षमताओं को मजबूत कर सके। भारतीय वायुसेना ने एक अलग बयान में कहा कि बल के शीर्ष कमांडर बुधवार से शुरू हो रहे तीन दिवसीय सम्मेलन में मौजूदा अभियान परिश्य और तैनाती का जायजा लेंगे।