IDA से प्लॉट लेने वालों को 20 साल का लीज रेंट एक मुश्त देना होगा

 



इंदौर। इंदौर विकास प्राधिकरण ने तय किया है कि अब प्लॉट लेने वाले को एक मुश्त लीज रेंट  15 के बजाय 20 साल का भरना होगा। कोरोना काल के तीन महीने का ब्याज भी नहीं देना पड़ेगा। कुमेड़ी और नायता मुंडला में बस स्टैंड के लिए 32 करोड़ और प्लॉट बेचकर 200 करोड़ कमाने का लक्ष्य तय किया गया है। 


इंदौर विकास प्राधिकरण का साल 2020-21 का बजट सोमवार को पेश हुआ। 395 करोड़ का बजट (5 करोड़ लाभ का) पेश करते हुए पुरानी योजनाओं के विकास और वर्तमान में चल रहे प्रोजेक्ट पर ही फोकस किया है। प्रशासनिक बोर्ड के चेयरमैन और संभागायुक्त पवनकुमार शर्मा की मौजूदगी में बजट को मंजूरी दी गई।  


2019-20 में बजट 425 करोड़ का था। इस साल यह 30 करोड़ कम है। आईडीए ने जो आय बताई है उसमें सिर्फ प्लॉट बेचकर 200 करोड़ कमाने का लक्ष्य रखा गया है। सीईओ विवेक श्रोत्रिय ने बताया कि मकान और फ्लैट बेचकर आईडीए 124 करोड़ कमाएगा।