मध्यप्रदेश कोरोना हुआ बेकाबू भोपाल, ग्वालियर, नीमच भी लाल


भोपाल। संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं, मध्य प्रदेश द्वारा जारी कोरोनावायरस मीडिया बुलिटिन दिनांक 11 जून 2020 के अनुसार ओवरऑल मध्य प्रदेश का डाटा राहत देता है लेकिन भोपाल के हालात बेकाबू हो गए हैं। आज फिर भोपाल में 85 पॉजिटिव पाए गए। इसी के साथ भोपाल में एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 543 हो गई है। इंदौर के अलावा ग्वालियर और नीमच में भी कोरोना लाल (खतरनाक स्थिति) हो चुका है। दोनों शहरों में 100 से ज्यादा एक्टिव केस हैं। 


संचालनालय स्वास्थ्य सेवाएं, मध्य प्रदेश द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार पिछले 24 घंटे में मध्यप्रदेश में 7971 सैंपल की जांच की गई जिसमें से 34 रिजेक्ट हो गए। 7779 नेगेटिव लेकिन 192 पॉजिटिव निकले। इसी के साथ मध्यप्रदेश में कुल संक्रमित लोगों की संख्या 10241 हो गई। 4 मरीजों की मौत के साथ मृतकों की संख्या 431, 150 मरीजों के डिस्चार्ज के साथ कुल डिस्चार्ज मरीजों की संख्या 7042 और अस्पतालों में भर्ती मरीजों की संख्या 2768 है। 


भोपाल के हालात बेकाबू हो गए हैं। अनलॉक से पहले तक भोपाल में प्रतिदिन औसत 50 से कम पॉजिटिव मामले दर्ज होते थे परंतु अब ग्राफ लगातार 50 से अधिक और 100 के नजदीक बना हुआ है। 


भोपाल में इन दिनों पॉजिटिव मरीजों की संख्या डिस्चार्ज होने वाले मरीजों की संख्या से ज्यादा है।  इंदौर की स्थिति लगातार चिंताजनक बनी हुई है। 3922 कुल संक्रमित लोगों में से 163 मरीजों की मृत्यु के बाद 1143 मरीज अभी भी अस्पतालों में भर्ती हैं। 
उज्जैन की स्थिति में सुधार हुआ है। एक्टिव मामले 100 से नीचे चले गए हैं। ग्वालियर 106 और नीमच 120 एक्टिव केस के साथ रेड लाइन पर आकर खड़े हो गए हैं। दोनों शहरों में संक्रमण का खतरा बढ़ चुका है।